उज्जैन जिला न्यायालय में चुनाव की सरगर्मी तेज हो गई है | मंगलवार को नामांकन भरने की अंतिम तिथि थी | ख़ास बात यह रही की कार्यकारिणी के 11 सदस्यों के पदों के लिए केवल 11 ही नामांकन पहुंचे | वहीँ पुस्तकालय सह सचिव के लिए भी केवल एक ही नामांकन आया | इस प्रकार कार्यकारिणी के 11 सदस्य व पुस्तकालय सह सचिव निर्विरोध चुने गए है | वहीँ अब कड़ा मुकाबला अध्यक्ष व अन्य पदों में होगा | चुनाव अधिकारी गोविंद शर्मा ने बताया की अब बची हुई पोस्ट पर मतदान से निर्णय होगा। नामांकन के अंतिम दिन तक 11 कार्यकारिणी सदस्यों के लिए केवल 11 वकीलों ने आवेदन किया था। चुनाव समय सीमा समाप्त होने के बाद निर्वाचन अधिकारी गोविंद गुरु ने 11 कार्यकारिणी सदस्य और सह सचिव पुस्तकालय के लिए एक नामांकन आने की वजह से योगेश शर्मा को निर्विरोध निर्वाचित कर दिया। निर्वाचन अधिकारी गोविंद गुरु ने कहा कि अध्यक्ष पद के लिए 3 सदस्य अशोक यादव, प्रमोद चौबे, सुरेंद्र चतुर्वेदी के नामांकन जमा हुए हैं। जबकि उपाध्यक्ष पद के लिए 4 नामांकन आए हैं इनमें स्नेहिल गहलोत, मुकेश उपाध्याय, जितेंद्र गोंदिया, गणेश पटेल, सचिव पद के लिए 3 लोगों ने नामांकन भरा है इनमें शैलेश मनाना, प्रकाश चौबे और संतोष सिसोदिया, कोषाध्यक्ष पद के लिए तीन नामांकन जमा हुआ इनमें महेंद्र सोलंकी, संजय सोलंकी, पं देवेंद्र शर्मा,अधिवक्ता कल्याण परिषद के लिए दो नामांकन आए हैं इसमें सागर तिरवार और अरविंद शर्मा के नाम शामिल हैं। 11 कार्यकारिणी सदस्य के लिए केवल 11 सदस्यों ने ही नामांकन भरा था इसलिए इन्हें निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया गया इनमें अपेक्षा शुक्ला, विक्रांत बाथली, राकेश चौधरी, मुनीराज शर्मा, राजेश कुमार , धर्मेंद्र पंड्या, इंसाफ अहमद कुरेशी, प्रदीप देवतवाल, पं महेश शर्मा, अजय आंजना शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *