उज्जैन के नीलगंगा पुलिस थाने पर एक वकील और एसआई के बीच किसी केस को लेकर विवाद की स्थिति बन गई। जिसके बाद गुस्साए वकील ने अभिभाषक संघ के सभी सदस्यों को थाने पर बुलाया और विरोध प्रदर्शन करते हुए घेराव कर दिया। घटना की जानकारी लगने के बाद एएसपी अमरेन्द्रसिंह ने मामले में दखल दिया और एसआई को फोन पर फटकार लगाई। जिसके बाद मामला शांत हुआ है।

दरअसल उज्जैन में रहने वाले वकील प्रदीप जायसवाल अपने पक्षकार के किसी प्रकार में जानकारी लेने संबंध में नीलगंगा पुलिस थाने पहुंचे थे। जहां पर उन्होंने एसआई दिनेश आंजना से मुलाकात की। जायसवाल ने आंजना से केस से संबंध में जानकारी लेने चाही, लेकिन आंजना ने जानकारी देने के बजाए जायसवाल ने बदसूलकी की और अभद्रता करते हुए गाली दी। जिसके बाद देखते ही देखते विवाद बढ गया। घटना के बाद वकील जायसवाल ने अभिभाषक संघ के सभी सदस्यों को थाने पर बुला लिया और एसआई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते हुए थाने का घेराव कर दिया। जिसके बाद पुलिस स्टाफ ने वकीलों को समझाने का प्रयास किया। लेकिन वकीलों ने एसआई पर कार्यवाही करने की मांग की। घटना की जानकारी लगने के बाद एएसपी अमरेन्द्रसिंह ने मामले में दखल दिया और एसआई को फटकार भी लगाई। जिसके बाद वकीलों ने विरोध प्रदर्शन समाप्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.