अमेरिका में तैयार की गई दो कोरोना वैक्सीन (फाइजर और मॉडर्ना) को मंजूरी मिल चुकी है. अब दुनिया को जल्द ही तीसरी भरोसेमंद वैक्सीन मिल सकती है. ब्रिटिश टेलिग्राफ अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक, ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनका की कोरोना वैक्सीन को 28 या 29 दिसंबर को ब्रिटेन के अधिकारी मंजूरी दे सकते हैं. बता दें कि ऑक्सफोर्ड की कोरोना वैक्सीन का बड़े पैमाने पर उत्पादन भारत में भी हो रहा है. 

ब्रिटेन में दिसंबर के आखिर में मंजूरी दिए जाने के बाद जनवरी में ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन की लाखों खुराकें लोगों को दी जा सकती हैं. सोमवार को रेग्यूलेटरी एजेंसी को वैक्सीन का फाइनल डेटा सौंपा जाना है. वहीं, telegraph.co.uk की रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनका की कोरोना वैक्सीन की 5 करोड़ से अधिक खुराक तैयार हो चुकी

ब्रिटेन ने ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन लोगों को देने के लिए पहले ही तैयारी कर ली है. रिपोर्ट के मुताबिक, ब्रिटेन इतना बड़ा वैक्सीनेशन कैंपेन शुरू करने जा रहा है जैसा पहले कभी नहीं हुआ. वहीं, ब्रिटेन में फाइजर की कोरोना वैक्सीन पहले से लोगों को दी जा रही हैं. 

फाइजर वैक्सीन के जरिए वैक्सीनेशन शुरू करने के बावजूद ब्रिटेन में तीसरे लॉकडाउन का खतरा बना हुआ है. एक तरफ चुनिंदा लोगों को वैक्सीन दी जा रही हैं, दूसरी ओर कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ रही है और हॉस्पिटल पर दबाव भी बढ़ रहा है. 

ब्रिटेन ने ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन की 10 करोड़ खुराक का ऑर्डर दिया है. इनमें से 40 लाख खुराक तुरंत मिल जाएंगी. फाइजर की वैक्सीन को जहां अल्ट्रा कोल्ड रेफ्रिजरेटर में रखना होता है, ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन सामान्य रेफ्रिजरेटर में रखी जा सकती हैं. 

Leave a Reply

Your email address will not be published.