• शराबियों ने उत्तरामुखी हनुमान के पीछे मंदिर मे शिवलिंग को तोड़ दिया है।
  • मौके पर जांच करने पहुंचे अधिकारियों ने मंदिर से जुड़े लोगों के बयान दर्ज किए है।

उत्तरामुखी हनुमान मंदिर के पीछे अग्रवाल समाज ट्रस्ट की खुली जमीन पर पुरुषोत्तम नारायण मंदिर और भगवान शिव का मंदिर है। बीती रात शराबियों ने मंदिर के बाहर बैठकर शराब पी और उसके बाद शिवलिंग तोड़कर भाग गये। मार्निंग वॉक पर आने वाले लोगों ने शिवलिंग टूटा देखा जिसकी सूचना पुलिस व चौकीदार को दी। पुलिस ने मामले में बदमाशों की तलाश शुरू की है।
अग्रवाल समाज के पुरुषोत्तम नारायण मंदिर के पास ही शिव मंदिर भी बना हुआ है। समाज के ट्रस्टी विजय अग्रवाल ने बताया कि प्रवेश द्वार टूटने के कारण कोई भी व्यक्ति मंदिर तक आना जाना करते हैं। रात के समय खुली जगह पर असामाजिक तत्व आ जाते हैं। ट्रस्ट द्वारा यहां चौकीदार भी नियुक्त किया है। राजेन्द्र पुजारी द्वारा सुबह शाम मंदिर में पूजा की जाती है। पुजारी के भतीजे यश पंवार ने बताया कि रात 8 बजे मंदिर में पूजा करने के बाद घर चला गया था। सुबह लोगों ने बताया कि शिवलिंग टूटा है। यश पंवार ने बताया कि तीन दिन पहले मंदिर के पीछे बने टायलेट पर रखी पानी की टंकी भी कोई चोरी कर ले गया था। सूचना मिलने पर सीएसपी एआर नेगी, चिमनगंज थाना प्रभारी जितेन्द्र भास्कर पुलिस फोर्स के साथ पहुंचे। टीआई भास्कर ने बताया कि मंदिर ट्रस्ट का है, चौकीदार स्थायी रूप से यहां नहीं रहता। मंदिर में गेट, कैमरे आदि सुरक्षा के उपाय भी नहीं किये गये हैं। मंदिर के पास शराब की बोतल, डिस्पोजल ग्लास आदि पड़े मिले हैं। संभवत: शराबियों द्वारा शिवलिंग तोड़ा गया है जिनकी तलाश शुरू की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.